हिमाचल के किन्नौर में भूस्खलन से बड़ा हादसा, कई लोगों के दबे होने की आशंका

0
128
Kinnaur Landslide
किन्नौर लैंडस्लाइड से बड़ा हादसा

हिमाचल प्रदेश में बड़ा हादसा किन्नौर जिले के नेगुलसारी में बुधवार को भारी भूस्खलन में हिमाचल सड़क परिवहन निगम (एचआरटीसी) की बस, एक ट्रक और कार सहित पांच वाहनों के दब जाने से कम से कम 35 लोगों के फंसे होने की आशंका है, जबकि एक को बचा लिया गया है। बता दें, इससे पहले किन्नौर के सांगला-छितकूल मार्ग पर 25 जुलाई को बड़ा भूस्खलन हुआ था। यहां पहाड़ से पत्थर गिरने से एक टूरिस्ट वाहन चपेट में आ गया था। इसमें 9 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि तीन लोग घायल हो गए थे।

तलाशी और बचाव अभियान चलाने की मांग :

फ़िलहाल आज हुए हादसे की बात करे तो दुर्घटना राज्य की राजधानी शिमला से 210 किलोमीटर और जिला मुख्यालय रिकांग पियो से 60 किलोमीटर दूर राष्ट्रीय राजमार्ग 5 पर हुई। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि, “राज्य सरकार ने राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल को तलाशी और बचाव अभियान चलाने की मांग की है। अगर मौसम ने अनुमति दी, तो मैं मौके पर जाऊंगा,”

अधिकारियों के अनुसार, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने स्थिति का जायजा लेने के लिए सीएम से बात की। उन्होंने भारत तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) को राज्य सरकार को बचाव और राहत कार्यों में हर संभव सहायता प्रदान करने का भी निर्देश दिया।

किन्नर उपायुक्त आबिद हुसैन सादिक ने कहा कि, “भारी मशीनरी जुटाई जा रही है, लेकिन मौके पर पहुंचने में समय लगेगा।” वही किन्नौर के विधायक जगत सिंह नेगी का कहना है कि, “आईटीबीपी के जवान, पुलिस और होमगार्ड सहित बचाव दल मौके पर पहुंच गया है। एक व्यक्ति को बचा लिया गया है। भूस्खलन के कारण बचावकर्मियों को बस तक पहुंचने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।”

एचआरटीसी के प्रबंध निदेशक संदीप कुमार ने कहा कि बस मूरंग से हरिद्वार जा रही थी। उन्होंने कहा कि बस में 20 से अधिक लोग सवार थे। इससे पहले 25 जुलाई को किन्नौर के बटसेरी में एक पर्यटक वाहन के भूस्खलन की चपेट में आने से नौ लोगों की मौत हो गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here